Breaking News

सोनभद्र उम्भा में में हुए 11 आदिवासियों के नरसंघार के पुण्यतिथि के पूर्व संध्या पर मृतक परिजनों से मुलाकात करने व श्रधांजलि देने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी को जाने से रोका गया

सोनभद्र प्राइम

विगत वर्ष सोनभद्र उम्भा में में हुए 11 आदिवासियों के नरसंघार के पुण्यतिथि के पूर्व संध्या पर मृतक परिजनों से मुलाकात करने व श्रधांजलि देने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू जी जा रहे थे जिनको रास्ते मे ही गिरफ्तार कर लिए गया और कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामराज सिंह गोंड को भी उभ्भा से जिला प्रसासन ने लिया यह खबर सुनते ही जनपद सोनभद्र के आक्रोशित कांग्रेसजनों ने जिला कार्यालय पर इकट्ठा होना सुरु कर दिया यह पता लगते ही जिला प्रसासन ने कांग्रेस कार्यालय को छावनी में तब्दील कर भारी पुलिस फोर्स लगा दी जिसके विरोध में कांग्रेस के लोग कार्यालय के बाहर निकल कर प्रदेश सरकार व पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए तत्काल प्रदेश अध्यक्ष,जिलाध्यक्ष समेत अन्य नेताओं के रिहाई की मांग करते हुए वही धरना पर बैठ गए जिससे कि प्रसासन के हाथ पांव फूल गए फिर भी कांग्रेस के लोग अपने नेतावो की रिहाई की मांग करते हुए लोकतांत्रिक तरीके से बढ़ौली चौराहा स्थित जिला कार्यालय में धरना प्रदर्शन करते जिन्हें जिला प्रसासन ने कार्यालय में ही नज़रबंद कर दिया..

कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव ज्ञानेंद्र तिवारी व पूर्व कार्यवाहक अध्यक्ष नामवर कुशवाहा ने कहा कि यह लोकतंत्र की हत्या है पुलिस के दम पर दमन नही चलेगा हम कांग्रेस के लोग अपने नेतावों के रिहाई तक नही मानेंगे..

जिला कांग्रेस कमेटी के निवर्तमान महासचिव धीरज पांडेय व स्वामी अरविंद सिंह ने कहा कि आज से ठीक एक वर्ष पूर्व उभ्भा में जो नरसंघार हुआ था उस वक्त भी योगी सरकार ने हमारी नेता प्रियंका गांधी जी को गिरफ्तार करवाया था आज फिर सत्ताधारी दल भाजपा के इसारे पर पुलिस प्रसासन द्वारा सोसल डिस्टेंसिंग के साथ श्रधांजलि देने जा रहे कांग्रेस नेतावो को गिरफ्तार किया जा रहा है जिसकी जितनी निंदा की जाय कम है हम लोकतांत्रिक तरीके से अगर अपनी आवाज़ बुलंद कर रहे हैं तो हमे नजरबंद किया जा रहा गिरफ्तार किया जा रहा जिसको जनता देख रही है और आने वाले समय मे सत्ताधारियों को माकूल जवाब देगी..

सेवादल के जिलाध्यक्ष कौशलेश पाठक व यूथ काँग्रेस के जिलाध्यक्ष आशुतोष दुबे ने कहा कि हम उभ्भा में शहीद आदिवासी भाइयो को श्रधांजलि देते है लेकिन प्रसासन का ये जो तानाशाही पूर्ण रवैया है व अलोकतंत्रिक है जिसे बर्दास्त निहि किया जाएगा हम कोरोना काल मे फसे हुए है अन्यथा हमे अपने जनपद के आदिवासियों के पास जाने उनका दुख सुख सुनने से कोई ताकत नही रोक सकती है

उक्त अवसर पर चंद्रकांत शर्मा,नामवर सिंह कुशवाहा, ज्ञानेंद्र त्रिपाठी, अरविन्द कुमार सिंह,राज बली पाण्डेय, धीरज पांडेय,कौशलेश पाठक, आशुतोष दुबे,कमलेश ओझा, दयाशंकर पांडे, बिनोद तिवारी,जितेंद्र पासवान,फरीद अहमद, राजीव त्रिपाठी,रमाशंकर यादव, सालिगराम कनौजिया,अमित चतुर्वेदी,विवेक सिंह पटेल,अमरेश देव पांडे शैलेन्द्र चतुर्वेदी, वंशीधर पाण्डेय, मृदुल मिश्रा,शितला सिंह पटेल, श्रीकांत मिश्रा,राजू शर्मा, अरविन्द कश्यप,मंजेश गोंड,सुरज वर्मा,ओम प्रकाश राम, अविनाश राजपूत, इशहाक भाई,कल्लू चौबे,प्रदीप चौबे,राजेश पासवान,नीगम मिश्रा, चन्द्र बहादुर सिंह गुजर, रिंकल सिंह सरदार,प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।।

Check Also

जाने, इन 6 साल में सरकार ने सेना को दिया क्या है?,इसके बाद पेट्रोल डीजल पर रोना बन्द हो जाएगा-के सी शर्मा

🔊 इस खबर को सुने K.C. Sharma “हकीकत का आईंना”-! 36 :- राफेल मल्टीरोल फाइटर …